22 जनवरी को “विश्व गौरव दिवस” के रूप में मनाएगा आर्य समाज

बस्ती। अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला के विराजमान होने की खुशी में पूरी दुनिया में सभी धार्मिक और सामाजिक संगठनों द्वारा विभिन्न आयोजन हो रहे हैं। इसी कड़ी में आर्य समाज इस दिवस को विश्व गौरव दिवस के रूप में मनाएगा। ओम प्रकाश आर्य प्रधान आर्य समाज नई बाजार बस्ती के नेतृत्व में तीन दिवसीय रामचर्चा का शुभारंभ आज सुरतीहट्टा बस्ती के प्राचीन शिव मन्दिर से हुआ जिसमें अनिल कुमार और गरुण ध्वज पाण्डेय के ब्रह्मत्व में मुहल्ले वासियों ने यज्ञ में आहुतियां दीं और मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम चर्चा में शामिल हुए।

स्वामी दयानन्द विद्यालय में 22 एवं 23 जनवरी को होगी वैदिक यज्ञ और रामचर्चा :-

यज्ञ में शिवाजी साहू और मनोज कुमार सपत्नीक यजमान रहे। ओम प्रकाश आर्य ने बताया कि दिनांक 22 एवं 23 जनवरी को स्वामी दयानन्द विद्यालय में 9:30 बजे से 12 बजे तक वैदिक यज्ञ और रामचर्चा होगी। इस अवसर पर यज्ञाचार्यों ने लोगों को श्रीराम के जीवन से प्रेरणा लेने की सलाह दी। पूर्व सभासद चुनमुन लाल ने कहा कि हमें भगवान राम से उत्तम संस्कारों को सीखना चाहिए जिससे हम पुनः विश्व को राम दे सकते हैं। यज्ञ के माध्यम से ही ऋषि श्रृंगी ने दिव्य आत्माओं का आवाहन करके महाराज दशरथ को चार संतानों का सुख दिया जिनसे पूरा विश्व आज प्रेरणा प्राप्त कर रहा है।

आर्य समाज गांधी नगर में आयोजित भगवान श्रीराम हम सबके हैं। कार्यक्रम में सत्येन्द्र वर्मा और अरविन्द मिश्र ने रामायण का संक्षेप में वर्णन किया और लोगों को उनके चरित्र से प्रेरणा लेने का आह्वान किया। ओम प्रकाश आर्य प्रधान आर्य समाज नई बाजार बस्ती ने बताया कि श्रीराम हमारे ही नहीं बल्कि पूरे मानवमात्र के आदर्श हैं। हमें उनके चरित्र में एक पुत्र, एक भाई, एक पति, एक राजा और एक धर्मरक्षक के गुण दिखाई देते हैं। अपने में राम को अनुभव करके हम पुनः रामराज्य ला सकते हैं।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से शिव श्याम, नितीश कुमार, दिलीप कुमार, दुर्गा, रितेश कुमार, महिमा आर्य, उपेन्द्र आर्य, अमित कुमार, बृजकिशोर, हरिपति पाण्डेय, मुरलीधर भारती, अरुण भारती, सुमन आर्य, उमा आर्य, जवाहर यादव, देवव्रत आर्य, नीलिमा श्रीवास्तव आदि सम्मिलित रहे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles