Basti News: सीएम के आगमन का संकेत मिलते ही रेलवे स्टेशन रोड का बदल दिया गया कायाकल्प, बाद की रोड अधूरी

बस्ती शहर के रेलवे स्टेशन रोड पर स्थित बालाजी प्रकाश होटल में माननीय मुख्यमंत्री का आज आगमन होने वाला है। इसी कार्यक्रम को देखते हुए रेलवे स्टेशन रोड के भी भाग्य खुल गए है। और सारे अधिकारी नीद से अचानक से नींद से जग गए है। इस जर्जर रोड की दशा सुधारने के लिए एक साल से अधिक समय हो गया है पर इस रोड का अभी तक रोड वैसी की वैसी ही पड़ी हुई थी और धन अभाव का रोना रोया जा रहा था, लेकिन मुख्यमंत्री के आगमन की खबर सुनते ही मात्र 4 दिन के अंदर ही रोड की तो कायाकल्प ही बदल गई है। एक दिन ही दिन में अचानक सड़क निर्माण की व्यवस्था बना ली गई। और रात-दिन एक कर सड़क के कायाकल्प को बदलने का काम शुरू कर दिया गया। लेकिन आपको बता दें कि ये रोड रेलवे स्टेशन तक नही, बल्कि प्रकाश होटल तक चमकाई गई है। बाकी उसके बाद के रोड वैसी की वैसी ही पड़ी हुई है।

बस्ती की शासन व्यवस्था बेहद कमजोर :-

अब ऐसी शासन व्यवस्था को क्या कहा जाए। आखिर हमारी प्रशासन व्यवस्था क्या कर रही है। मतलब ये है कि जहां तक नेता लोग आएंगे वहीं तक विकास संभव होगा यानी कि योगी जी बालाजी प्रकाश तक आ रहे हैं तो बालाजी प्रकाश तक विकास है उसके आगे विकास जाए भाड़ में कोई फर्क नहीं। यह हमारे बस्ती का शासन प्रशासन की व्यवस्थाएं और बस्ती का विकास हो रहा है। ये सिर्फ बस्ती जिले में ही नही बल्कि पूरे देश में यही हाल है। सिर्फ दिखावे के लिए यह रोड बालाजी प्रकाश होटल तक एकदम चकाचक कर दिया गया है, उसके बाद इस रोड की भी वैसी ही दशा हो जायेगी।
नगर पालिका के अधीन दक्षिण दरवाजा से रेलवे स्टेशन मार्ग की दशा करीब दो साल से दयनीय है। और बारिश के बाद तो इस सड़क पर पैदल चलने लायक नहीं रहता था । सड़क कई जगह गड्ढों में तब्दील हो गई थी। लेकिन

सीएम योगी आदित्यनाथ जी के आगमन का संकेत मिलते ही चमक उठा रेलवे स्टेशन रोड :-

रेलवे स्टेशन रोड पर स्थित बालाजी प्रकाश होटल परिसर में आर्य समाज नई बाजार के स्थापना दिवस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के आगमन की खबर सुनते ही मात्र 4 दिन के अंदर ही अंदर इस रोड की तो कायाकल्प बदलने के लिए एक ही दिन में अचानक सड़क निर्माण की व्यवस्था बना ली गई। और रात-दिन एक कर सड़क के कायाकल्प को बदलने का काम शुरू कर दिया गया।
हालांकि, पीडब्ल्यूडी मुख्यालय ने इस पर स्वीकृति नहीं दी थी । 48 घंटे के भीतर इस रोड की तस्वीर बदली हुई दिखाई पड़ने लगी है। जिले के आला अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद यह तय किया गया कि इस रोड के निर्माण पर सारा धन खर्च नगर पालिका करेगी। जबकि इस रोड के कायाकल्प का जिम्मा लोक निर्माण विभाग के निर्माण इकाई को दिया गया है।
हालांकि दोनों विभागों के अधिकारी इस रोड के निर्माण के बारे में बजट, निविदा इत्यादि से संबंधित विशेष जानकारी देने से कतरा रहे हैं। ईओ नगर पालिका दुर्गेश्वर त्रिपाठी ने कहा कि रेलवे स्टेशन मार्ग पर सड़क निर्माण का भुगतान नगर पालिका की ओर से किया जाएगा। यह कार्य लोक निर्माण विभाग की निगरानी में कराया जा रहा है।

Video –

रेलवे स्टेशन तक नही, बल्कि प्रकाश होटल तक चमकाई गई सड़क :-

रोड रेलवे स्टेशन तक नही, बल्कि प्रकाश होटल तक चमकाई गई है। उसके बाद के रोड वैसी की वैसी ही पड़ी हुई है। ऐसी शासन व्यवस्था को अब क्या कहा जाए। रेलवे स्टेशन का रोड गड्ढे में तब्दील हो चुके है। पर नगर पालिका और लोक निर्माण विभाग के किसी भी अधिकारी को ये दिखाई ही नहीं देता है। जब भी इस रोड की शिकायत होती है तो ये अधिकारी धन का अभाव है ये कहकर बात ताल देते है। अगर मुख्यमंत्री जी का बस्ती में आगमन नही होता तो शायद ये जो दिखावे की रोड बनकर तैयार हो गई है ये भी नही बनती, बस सिर्फ दिखावे के लिए बालाजी प्रकाश होटल तक रोड का निर्माण कराया गया है। उसके बाद की रोड का हाल पहले जैसी ही दयनीय है। हमारे जिले के प्रशासन की यही दशा है।

Read also :-

Basti News: दो स्थानों से अनाज लिए जाने का हुआ खुलासा, पाए गए 2500 कार्डधारक

UPSC Prelims को लेकर सांसदों ने जताई नाराजगी: 100 पश्नो में से 47 प्रश्न पैटर्न से बाहर, पासिंग मार्क्स 33% से घटाकर 23% करने की जा रही मांग

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles