Basti News: बस्ती के लाल ने अमेरिका में फहराया परचम।

बस्ती के लाल अवनीश को अमेरिकी सरकार रक्षा व विज्ञान मंत्रालय में दो करोड़ रुपए के पैकेज पर तैनाती मिली। अवनीश की मानें तो इस पद पर तैनाती पाने वाले विश्व के पहले नान यूएस सिटीजन चुने गए हैं।

अवनीश ने इन लोगों को दिया अपनी उपलब्धि का श्रेय

अवनीश इस उपलब्धि का पूरा श्रेय अपने भाई अविनाश मिश्रा और माता- पिता को दिया है। अवनीश मिश्रा को अमेरिका की उसी लैब में नियुक्ति हुई हैं जिस परमाणु लैब में हिरोशिमा और नागासाकी पर गिराने वाले परमाणु बम बना था।

उसी अमेरिकी लैब में बतौर वैज्ञानिक तैनाती मिली है। किसी ने ठीक ही कहा है कि मन में संकल्प हो तो दुनिया के किसी भी देश में आप अपना झंडा बुलंद कर सकते हैं।ऐसा ही कि कुछ कर दिखाया है बस्ती के लाल ने अवनीश मिश्रा ने। अवनीश मिश्रा के पिता वी के मिश्र फार्मासिस्ट और माँ आभा मिश्र निजी स्कूल में शिक्षिका है।

अवनीश की प्रारंभिक प्रारंभिक शिक्षा

जनपद के साथ साथ पूरा देश भी गौरवान्वित महसूस कर रहा है। अवनीश मिश्रा के बड़े भाई अविनाश मिश्रा ने बताया कि अवनीश ने शुरुआती शिक्षा से लेकर स्नातक तक शिक्षा बस्ती से ही प्राप्त की हैं।

गोरखपुर यूनिवर्सिटी से MSC करने के बाद बैंगलुरू इंडियन इंस्टीयूट ऑफ साइंस से PHD की शिक्षा ग्रहण की।

यूनिवर्सिटी ऑफ कनेक्टिकट बोस्टन अमेरिका से पोस्ट डाक कोर्स पूरा करने के बाद अमेरिका के डिफेंस व साइंस मिनिस्ट्री से नेशनल लैब आलामास में फेलोशिप के आधार पर काम करना शुरू कर दिया।

गवर्नमेंट ऑफ़ अमेरिका से मिला नियुक्ति पत्र

एक साल तक फेलोशिप काम करने के बाद गवर्नमेंट ऑफ अमेरिका ने बतौर साइंसिस्ट नियुति दी ।

अवनीश की माता आभा मिश्र ने बताया कि उनका बेटा शुरू से ही पढ़ने में माहिर था साथ ही साथ वो क्रिकेट खेलने में भी माहिर था।

बेटे ने भारत देश का का नाम ऊंचा कर दिया है,हम सब बहुत ही जायदा गौरवान्वित है।

बाइट- आभा मिश्रा……..माता
बाइट- अवनीश मिश्रा……भाई

रिपोर्टर जय प्रकाश यादव

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles